Sunday, August 7, 2022
Home Authors Posts by Rising Hindutva Team

Rising Hindutva Team

109 POSTS 1 COMMENTS

आंतरिक संकट – कम्युनिस्ट

साम्यवाद के लिए भूमि की तैयारी अंग्रेज के इस देश को छोड़कर जाने के पश्चात् जब हम अपने राष्ट्र की भावी रचना को आकार देने...

डॉ. केशवराम बलिराम हेडगेवार : हमारे मूर्तिमान आदर्श

जन्मजात देशभक्त राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संस्थापक डा. केशव बलीराम हेडगेवार का जन्म नागपुर में १८८६ में हुआ। अपने बाल्य-काल से अन्तिम क्षण पर्यन्त उनका...
savarkar's views on hindu-muslim relations

Savarkar’s views on Hindu-Muslim relations

Savarkar's views on Hindu-Muslim relations Savarkar's views on Hindu-Muslim relations are a result of his study of Islamic scriptures, a deep insight into historical events,...

The last wish of Veer Savarkar

The last wish of Veer Savarkar If possible, please send my dead body in electric creamatorium only ! And not by lifting on shoulders of...

Communism and Freudism – Veer Savarkar

Communism and Freudism Communists want to emphasise that all the literature (in Marathi and other languages) is a result of the economic struggle between the...

स्वराज्य की सीधी राह – वीर सावरकर

स्वराज्य की सीधी राह प्रिय मित्रो ! मैं बंगाल में अपने जीवन में प्रथम बार ही आया हूँ। अतः इस प्रांत की कठिनाईयों का मुझे...

Why should We support the Monarchists of Nepal?

Many friends are in a dilemma that by supporting the Nepal's movement, do we want to prove that the monarchy is superior administration system?...

अंत ( वीर सावरकर जी की जीवनी )

★ अंत 10 फरवरी, 1949: सावरकर को अपराधमुक्त कर दिया गया था, लेकिन दिल्ली में मुफ्त चलने की अनुमति नहीं थी। दिल्ली के मजिस्ट्रेट ने...

गांधी की हत्या ( वीर सावरकर जी की जीवनी )

★ गांधी की हत्या स्वतंत्रता के बाद भी हिंसा बेरोकटोक जारी है। पंजाब के दो हिस्सों से हिंदुओं और मुसलमानों का पलायन हुआ। ...

स्वतंत्रता (वीर सावरकर जी की जीवनी)

★ स्वतंत्रता 29 मई, 1947: सावरकर ने कांग्रेस नेताओं से विभाजन स्वीकार करके मतदाताओं को धोखा न देने का आग्रह किया: उन्होंने अपने चुनाव अभियान...

Recent Posts

Popular Posts

Jayostute Poem with Hindi and English translation

जयोस्तुते श्रीमहन्मंगले ! शिवास्पदे शुभदे स्वतंत्रते भगवती ! त्वामहं यशोयुतां वंदे राष्ट्राचे चैतन्य मूर्त तू नीती-संपदांची स्वतंत्रते भगवती ! श्रीमती राज्ञी तू त्यांची परवशतेच्या नभात तूची आकाशी होसी स्वतंत्रते...